बड़ी खबर : सड़क हादसे में एक साथ हुई 14 खिलाड़ियों की हुई मौत,पीएम् ने जताया घोर शोक

0
34220

कहा जाता है की जिंदगी  का कोई भरोसा नहीं होता और  यही वजह है की किसी के भी  मौत का कोई समय निश्चित  नहीं होता ये कभी भी और कहीं  भी  हो सकती है |दुनिया में बस यही एक ऐसी चीज है जिसपे मनुष्य का कोई जोर नहीं चलता |आज ऐसी ही एक दुखद घटना हमारे सामने आई है जिसे जान कर आप के भी होश उड़ जायेंगे |जैसा की हम सभी जानते है की  किसी की  भी मौत होना उनके परिवार के लिए बेहद दुःख होता है|

वहीँ  जब किसी बड़ी हस्ती की  मौत होती है  तो फिर ये  देश के लिए काफी महत्व रखता हो तो सभी को दुःख होता है लेकिन  जरा सोचिये यदि  एक साथ 14 ऐसे लोगों की मौत हो जाए जो देश का भविष्य हैं सुनकर आपको बभी झटका लग सकता है |हाल ही में श्रीदेवी की मौत हुई थी जिसने देश को हिला दिया था और इसी 8 अप्रैल को दो बड़े डायरेक्टर की माँ का निधन भी हुआ है. अभी लोग इन दुखों से उभरे ही थे कि एक ऐसी हादसा सामने आया है जिसने सबको हिलाकर रख दिया है|

सड़क दुर्घटना में गयी जान  कई खिलाडियों की जान

दरअसल, 14 हॉकी खिलाड़ियों से भरी बस उस वक्त दुर्घटना का शिकार हो गयी जब उसके ठीक सामने एक ट्रेक्टर आ गया और बस पलट गयी. हादसा इतना भयंकर नहीं था जितना उसका असर है. जब बस पलती तो लोग दौड़ कर बस के पास गये तो देखा बस में हॉकी खिलाड़ी थे लेकिन बेहद बुरी खबर यह थी कि 14 खिलाड़ी दम तोड़ चुके थे. इतना ही नहीं करीब 14 ही लोग इस हादसे में बुरी तरह जख्मी हुए हैं और 3 लोगों की हालत बेहद नाज़ुक बताई जा रही है

जानकारी के मुताबिक, हॉकी खिलाड़ियों को ले जा रही बस सस्काचेवान के ग्रामीण क्षेत्र में जैसे ही पहुंची, वो एक ट्रैक्टर-ट्रॉली से टकरा गई। ये बस हमबोल्ड्ट ब्रोनकोस के खिलाड़ियों को लेकर निपाविन जा रही थी, जहां उन्हें जूनियर हॉकी लीग में निपाविन हॉक्स के खिलाफ प्लेऑफ मुकाबला खेलना था। ये सभी खिलाड़ी हॉकी की जूनियर टीम के खिलाड़ी थे।

पीएम ने जताया शोक

आपको बतादें घटना कनाडा की है जहां एक बस हमबोल्ड्ट ब्रोनकोस के हॉकी प्लेयर्स को लेकर उत्तर की तरफ जा रही थी कि अचानक यह बेहद दुःख घटना हो गयी. प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने इस हादसे पर शोक प्रकट किया है और लिखा किमैं सोच भी नहीं सकता हूँ खिलाडियों के माता-पिता पर क्या बीत रही होगी.

वहीं, कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने भी इस घटना पर दुख जताया है। ट्रूडो ने ट्विटर पर लिखा है “मैं कल्पना नहीं कर सकता कि उनके माता-पिता पर क्या गुजर रही होगी। हमबोल्ड्ट समुदाय और इस भयानक त्रासदी से प्रभावित लोगों के प्रति मेरी गहरी संवेदना है”।

हॉकी टीम के साथ हुए इस भयंकर हादसे ने ऐसे ही एक और हादसे की याद दिला दी जब दिसंबर 1986 में सस्केचेवान में स्विफ्ट करंट ब्रोंकोस के चार खिलाड़ियों की मौत हो गई थी। हम अपनी ओर से खिलाड़ियों  के परिवार को भावनात्मक श्रद्धांजलि देते हैं और उम्मीद करते हैं जल्द ही इनके परिवार इस सदमें में से बाहर आयेंगे.

Loading...