FB वाले प्यार को पाने मुंबई से इंदौर आ गई लड़की, पता चला लड़का तो….

0
985

सोशल मीडिया पर पनपी एक और लव स्टोरी सामने आई है। कड़माल गांव के एक लड़के ने मुंबई की लड़की से फ्रेंडिशिप कर ली। चैटिंग के साथ ही दोस्ती प्यार में बदल गई। लड़के ने खुद को डॉक्टर बताया तो लड़की और ज्यादा इंप्रेस हो गई। दोनों ने शादी का वादा भी कर लिया। लड़की अपने डॉक्टर प्रेमी से शादी कने के लिए मुंबई से इंदौर आ पहुंची। यहां आकर पता चला कि लड़का डॉक्टर नहीं है, इतना ही नहीं वो बालिग भी नहीं है। उसकी उम्र मात्र 17 साल है। घर से आई लड़की वापस जाने को तैयार नहीं हुई। मामला पुलिस तक पहुंच गया।
यह कहानी धार जिले के निसरपुर के गांव कड़माल के एक किशोर के साथ हुई है। 6 महीने पूर्व फेसबुक पर मुंबई की ममता पिता हरीश सोलंकी (19) को कोसवाड़ा हाल मुकाम गांव कड़माल के रोहित पिता महेश सोलंकी (17) से प्यार हो गया था। दोनों के बीच चैटिंग होती थी। दोनों ने एक दूसरे के फोटो भी देखे थे। दोनों प्यार में पूरी तरह से डूब गए थे। लड़की अपना प्यार पाने के लिए घर पर बिना बताए ही 650 किमी का सफर तय कर इंदौर पहुंच गई।

इंदौर आकर लड़की ने अपने बीएफ को फोन किया तो लड़के ने उसे गांव आने के बजाए इंदौर में ही अपनी मौसी के यहां भेज दिया। लड़की बताए हुए पते पर पहुंच गई। वहां पता चला कि जिससे वह प्यार करती है वह अभी नाबालिग है और पढ़ाई कर रहा है। प्रेमिका के आने की बात किशोरी की मौसी ने अपनी बहन (किशोर की माता) व पिता को फोन कर बताई। जिस पर वे इंदौर पहुंचे और घटनाक्रम सुन युवती को समझाइश दी लेकिन वह प्रेमी से शादी करने की जिद पर अड़ी रही। मामला सुलझता नहीं देख परिजनों को कड़माल पहुंच निसरपुर पुलिस को इसकी सूचना दी।

युवती के माता-पिता पहुंचे और अपने साथ ले गए

निसरपुर पुलिस चौकी के एसआई दीपक देवरे ने बताया फेसबुक पर मुंबई की ममता सोलंकी की कड़माल के रोहित सोलंकी से बातचीत होती थी। रोहित ने अपना परिचय डॉक्टर के रूप में दिया था। जिससे युवती मुंबई छोड़ रोहित के साथ रहने आ गई। जहां पता चला कि रोहित अभी नाबालिग है और पढ़ाई कर रहा है। मामला पुलिस के पास पहुंचने पर पुलिस ने मुंबई पुलिस से संपर्क किया। जहां युवती के माता-पिता ने उसकी गुमशुदगी दर्ज करवा रखी थी। सूचना मिलते ही युवती के माता-पिता इंदौर पहुंचे और युवती को साथ ले गए।

Loading...
SHARE