इंजीनियर ने तोड़ा खुदाई में मिला शिवलिंग, अगले ही पल उसके साथ जो हुआ देखकर हर कोई डर गया

0
5649

इस संसार में आप कई तरह के किस्से आपको सुनने को मिलते है जिसे सुनकर आप के पैरों के नीचे की जमीन खिसक जाती है तो आज हम आपको जो बताने जा रहे है दोस्तों ये एक दम सच घटना है तो चलिये जानते है इस घटना के बारे में ये घटना क्यों और कैसे हुई इसके पीछे होने का क्या कारण है इसके बारे मे भी बताना बहुत मुशिकल है दोस्तों हमारे देश में भी ऐसी कई सारी घटनायें घट चुकी है जिसकी कल्पना कर पाना एक आम आदमी के लिए बहुत मुश्किल काम है वैज्ञानिकों ने भी हाथ खड़े कर लिए क्योंकि विज्ञान में इन चीजों का कोई हल नही.

 

दोस्तों यह घटना झारखंड में घटी है अभी हाल ही मैं जिसको सुनकर आप एकदम हैरान हो जाएंगे तो चलिये जानते है कि ऐसा क्या हुआ था जिसके कारण लोगो मे अभी भी इतनी दहशत बैठी हुई है आपको हम बता दे कि उस टाइम अंग्रेजों का शासन हुआ करता था वो रेल की पटरियां बिछवा रहे थे क्योंकि काम करते टाइम जमीन भी खुदवाई जा रही थी और खुदाई के वक्त मजदूरों को एक शिवलिंग मिली वो सब लोग शिवलिंग को देखकर एक दम से चौक गए और काम को तुरन्त रोक दिया उसी वक्त अंग्रेज इंजीनियर ने मजदूरों को फिर से वही खुदाई करने को कहा जब मजदूरो ने उस इंजीनियर को शिवलिंग के बारे में जानकारी दी तो उसने गुस्से में आकर खुद फावड़ा लेकर शिवलिंग को तोड़ दिया वहां के लोगो का कहना है कि उस टाइम ऐसा करने से सबने उन्हें समझया पर वो नही माना आखिरकार वही किया जो उसको नही करना चाहिए था उसने फावड़े से भगवान के शिवलिंग पर वार कर दिया.

दोस्तों चौकाने वाली तो बात यह थी कि उसके थोड़े ही देर में उस इंजीनियर की मौत हो गयी इतना ही नही वहां की चल रही मशीनें भी थोड़ी देर के लिए बंद हो गयी विज्ञान को झिंझोड देने वाली घटना विज्ञान से बहुत आगे है इस घटना के बाद अंग्रेज सरकार ने वहां से पटरियों का काम रोक दिया और दूसरी जगह पर पटरियों को बिछवाना शुरू कर दिया आगे चलकर वही एक शिव जी का भब्य मंदिर बनवा दिया गया जो झारखंड में गोइलकेरा में स्थित है और इस मंदिर का नाम महादेवशाला धाम से प्रसिद्ध है और यहां आज भी लोग भगवान शिव की पूजा अर्चना करने आते है। तो दोस्तों आज की ये जानकारी आपको कैसी लगी हमे अपनी राय कमेंट बॉक्स में जरूर दे धन्यवाद.

Loading...
SHARE